ओम् नाम के हीरे मोती

ओम् नाम के हीरे मोती,

मैं बिखराऊँ गली-गली।

ले लो रे कोई प्रभु का प्यारा,

शोर मचाऊँ गली-गली।।

ओम् नाम के ........................ ।।

प्रभु सुमिरण में मस्त बने जा-2

भक्ति सुध रस पान किये जा-2

तेरी नैया पार लगाये।

मुख से बोलो .......... ।।

तेरा पल-पल बीता जाये।

मुख से बोलो ओम् ओम्।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *