Bhajans

Guidelines for Yog Pracharak

  • Bhajans
  • January 4, 2018
  • by admin

नियमित योग कक्षा से सम्बंधित आवश्यक निर्देश :१. आपको नियमित योग कक्षा के लिए बैनर की सीडीआर फाइल ( जिसे आप कम्प्यूटर

हम सब मिलके दाता आये तेरे दरबार।

  • Bhajans
  • January 12, 2018
  • by admin

हम सब मिलके दाता आये तेरे दरबार। भर दे झोली सबकी तेरे पूरण भण्डार।। हम सब मिलके दाता ............. ।। होवे जब संध्याकाल निर

जिन्दगी में भूल कर न पाप कर।

  • Bhajans
  • January 12, 2018
  • by admin

जिन्दगी में भूल कर न पाप कर। हर घड़ी परमात्मा का जाप कर।। जिन्दगी में .............. ।। भक्ति-शक्ति-मुक्ति मिलती मोल न-2। जि

आसरा इस जहाँ का मिले ना मिले।

  • Bhajans
  • January 12, 2018
  • by admin

आसरा इस जहाँ का मिले ना मिले। ईश तेरा सहारा सदा चाहिए।। चाँद-तारे पफलक पर दिखे न दिखे। मुझको तेरा नजारा सदा चाहिए।

मुझ में ओम् तुझ में ओम्, सब में ओम् समाया।

  • Bhajans
  • January 11, 2018
  • by admin

मुझ में ओम् तुझ में ओम्, सब में ओम् समाया। सबसे कर लो प्यार जगत् में, कोई नहीं पराया।। मुझ में ओम् तुझ में ओम् ............ ।

यदि प्रभु का भजन नहीं गाओगे रे प्यारे

  • Bhajans
  • January 11, 2018
  • by admin

यदि प्रभु का भजन नहीं गाओगे रे प्यारे। अन्त समय पछताओगे रे प्यारे।। यदि प्रभु का भजन ................ ।। जग में रहकर जग को भु

पी ले पी ले पी ले, प्राणी ओम् नाम का प्याला

  • Bhajans
  • January 11, 2018
  • by admin

पी ले पी ले पी ले, प्राणी ओम् नाम का प्याला। इसको पीकर और पिलाकर हो जा तू मतवाला।। बोलो ओम्, बोलो बोलो ओम्-2 पी ले, पी

ऐसे इस संसार को जीतो।

  • Bhajans
  • January 11, 2018
  • by admin

ऐसे इस संसार को जीतो। काम बली जीतो संयम से।। क्रोध् को दया विचार से जीतो। ऐसे इस संसार .......... ।। कड़वे को कड़वा मत बोल

ओम् नाम के हीरे मोती

  • Bhajans
  • January 11, 2018
  • by admin

ओम् नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली-गली। ले लो रे कोई प्रभु का प्यारा, शोर मचाऊँ गली-गली।। ओम् नाम के ........................ ।।

ओम कहने से तर जायेगा

  • Bhajans
  • January 10, 2018
  • by admin

ओम् कहने से तर जायेगा-2 तेरा जीवन सँवर जायेगा-2 ओम् कहने से ......... ।।   बड़ी मुश्किल से नर तन मिला-2 पार भव से उतर जायेगा-2

नैतिकता की सुर सरिता में

  • Bhajans
  • January 9, 2018
  • by admin

नैतिकता के सुर सरिता में जन जन- मन पावन हो संयममय जीवन हो... ...संयममय जीवन हो अपने से अपना अनुशासन अणुव्रत की परिभाषा

जिंदगी का सफ़र करने वाले मन का दिया तू जलाले

  • Bhajans
  • January 7, 2018
  • by admin

ज़िंदगी का सफर करने वाले पने मन का दीया तो जलाले  रात लंबी है गहरा अंधेरा कौन जाने कहाँ है सवेरा | तू है अंजान मंजिल

भगवान आर्यों को ऐसी लगन लगा दे

  • Bhajans
  • December 29, 2017
  • by admin

भगवान आर्यों को ऐसी लगन लगा दे | वैदिक धर्म की खातिर मिटना इन्हें सिखा दे || फिर राम कृष्ण निकलें घर-घर गली-गली से | अर